हिन्‍दी बोल-चाल में अंग्रेजी का बढ़ता प्रभाव

हिन्‍दी बोल-चाल में अंग्रेजी का बढ़ता प्रभाव
हिन्‍दी भाषीय भारतीय यदि बातचीत हिन्‍दी में ही कर रहे होते हैं किन्‍तु उनके हिन्‍दी को सुनकर अंग्रेजी बोलने का आभास होने लगे तो यह हिन्‍दी बोलचाल में अंग्रेजी का बढ़ता प्रभाव ही है ।

जल संकट का कारण और निदान जल स्रोत ही है

जल संकट का कारण और निदान जल स्रोत ही है । आवश्‍यकता के अनुरूप जलस्रोत  का न होना, जल स्रोतों में अतिक्रमण, जलस्रोतों को गंदा करके नष्‍ट करना, बांधों की कमी से वर्षा जल संरक्षित करने में कठिनाई आ रही है,

कुण्‍डलियां छंद की परिभाषा उदाहरण सहित

कुंडलियां छंद एक विषम मात्रिक छंद है । जिसमें 6 पद 12 चरण होते हैं । यद्यपि सभी 6 पदों में 24-24 मात्राएं होती हैं किन्‍तु प‍हले दो पदों में 13,11 यति से चौबीस मात्राएं होती हैं जबकि शेष चारों पदों में 13,11 यति पर चौबीस मात्राएं होती हैं ।

मानसून का मनोहारी दृश्य, जीवन को मनोहर बनाता है

मानसून का मनोहारी दृश्य- मानसून की फुहारों से धरती की सतह नाच उठी है । चिड़िया घोसले में फुदकने में लगे हैं । मेंढक और झींगुरा मैं क्यूट कंपटीशन हो रहा है। छोटी-छोटी घास धरती की छाती से लिपटने लगे हैं । पतझड़ के पौधे फिर हरियाने लगे हैं । सुखी नदी तालाब अपनी प्यास बुझा रहेContinue reading “मानसून का मनोहारी दृश्य, जीवन को मनोहर बनाता है”

भूमि अतिक्रमण एक पर्यावरणीय समस्‍या

दूसरों के स्वामित्व के भूमि को अपनेे स्वामित्व मैं लेना भूमि अतिक्रमण कहलाता है । विशेषकर शासकीय भूमि को किसी निजी व्यक्ति द्वारा अथवा किसी निजी संस्था द्वारा अपने अधीन कर लेना ही भूमि अतिक्रमण है ।